मैं सदैव थका हुआ क्यूँ रहता हूँ?

थका हुआ महसूस करना इतना सामान्य है कि इसके अपने परिवर्णी शब्द, TATT हैं जिनका अर्थ “सदैव थका हुआ” है।

डा. रूपल शाह, दक्षिणी लंदन की एक GP, कहती है कि थकावट उनकी शल्य-चिकित्सा में पायी जाने वाली अत्यंत आम शिकायत है। “मैं कई रोगियों का उपचार करती हूँ जिन्हें थकावट महसूस करने की शिकायत होती है,अच्छे से नींद पूरी होने के बावजूद भी। अक्सर यह कई महीने तक चलता है।”

रॉयल कॉलेज ऑफ साइक्याटरिस्ट्स के अनुसार किसी भी समय पर, पांच में से एक व्यक्ति असामान्य रूप से थका हुआ, और दस में से एक व्यक्ति लंबे समय से थकावट महसूस कर रहा होता है। अक्सर पुरुषों की तुलना में स्त्रियाँ ज्यादा थकावट महसूस करती है।

“शारीरिक रूप से कुछ गलत खोज पाना असामान्य है। ज़्यादातर, मनोदशा और जीवन के कई छोटे तनावों के एकत्रीकरण का संबंध थकावट से होता है,” डा. शाह कहती हैं।

डा. शाह कहती हैं कि सामान्यतया थकावट की शिकायत करने वाले रोगियों की रक्तक्षीणता (एनीमिया) अथवा असामान्य रूप से निष्क्रिय थाइराइड गिल्टी जैसे चिकित्सीय कारणों को ख़ारिज करने के लिये, रक्त जांच करवाई जाती हैं।

“यदि दुखद मासिकधर्मी समय, वजन में गिरावट, मल-निस्तारण क्रिया में बदलाव, बाल गिरना, अत्यधिक प्यास इत्यादि जैसे कारण भी हों तो थकावट का चिकित्सीय कारण होने की संभावना प्रबल होती है।’’

यदि आप सर्वप्रथम यह जानना चाहते हैं कि आपको थकावट क्यों हो रही है, तो निम्न के बारे में विचार करना सहायक होगा :

  • आपकी नौकरी और पारिवारिक उत्तरदायित्व जैसे जीवन के भाग, जो विशेष रूप से थका सकते हैं
  • किसी प्रियजन की मृत्यु अथवा सम्बन्ध विच्छेद जैसी कोई घटना, जिसने आपको थका दिया हो
  • आपकी जीवनशैली किस प्रकार आपको थका देती है

थकावट के शारीरिक कारण

लोक प्रचलित रक्तक्षीणता (एनीमिया) अथवा थाइराइड समस्याओं के अतिरिक्त मधुमेह, आहार असहिष्णुता और निद्रा रोग - निद्रा अश्वसन जैसी कई हैरान करने वाली स्वास्थ्य से संबन्धित शिकायतें आपको थका हुआ महसूस करवा सकती हैं।

थकावट के चिकित्सीय कारणों के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करें।

सामान्य से अधिक अथवा कम वज़न का होना भी थकावट उत्पन्न कर सकता है। वह इसलिए क्योंकि दैनिक कार्यों को करने के लिये आपके शरीर को सामान्य से अधिक शक्ति से कार्य करना पड़ता है। यदि आपका सामान्य से कम वज़न है, तो आपकी मांसपेशियों में कम शक्ति होती है और आप जल्द ही थकावट महसूस कर सकते हैं।

गर्भावस्था, विशेषत: प्रथम 12 सप्ताहों में, आपकी ऊर्जा को कम कर सकती है।

थकावट के मनोवैज्ञानिक कारण

शारीरिक समस्याओं से उत्पन्न थकावट से अधिक प्रचलित थकावट के मनोवैज्ञानिक कारण होते हैं।

चिन्ता एक मुख्य कारण है जो अनिद्रा उत्पन्न कर सकती है और, फलस्वरूप निरंतर थकावट उत्पन्न कर सकती है। मेंटल हैल्थ फाउंडेशन द्वारा किये गए एक सर्वे में यह पाया गया है कि लगभग एक तिहाई जनसंख्या को अक्सर नौकरी और धन की चिंताओं के कारण अत्यंत कम निद्रा आती है। फाउंडेशन की रिपोर्ट, स्लीप मैटर्स, के अनुसार अनिद्रा और निम्न ऊर्जा स्तर ( लो फिजिकल एनर्जी) एक दूसरे से संबन्धित है।

रोजमर्रा जीवन की चिंताएं और तनाव, भले ही वह सकारात्मक हो, थकावट का कारण हो सकती है, उदाहरणार्थ घर शिफ्ट करना अथवा शादी करना। कोई दुखद समाचार, किसी प्रियजन की मृत्यु का समाचार अथवा सम्बन्ध विच्छेद जैसे भावनात्मक झटके आपके जीवन में खालीपन महसूस करवा सकते हैं।

निराशा ( डिप्रेशन) अथवा चिन्ता ( एंजाइटी) जैसी मानसिक स्वास्थ्य समस्याएं आपको अधिक थका हुआ महसूस करवा सकती हैं। वे (मैं आपकी रात की नींद भी उड़ा सकती है) आपको एक रात की निद्रा से भी वंचित कर सकती है।

यदि आपके विचार में आपकी थकावट निम्न मनोदशा में निहत है तो अपनी निद्रा समस्याओं से निपटने के लिये इस छोटी ऑडिओ गाइड को अपनाने का प्रयास करें।

जीवनशैली थकावट उत्पन्न करती है

अक्सर आपकी जीवनशैली, जैसे अत्यधिक मदिरापान अथवा अपौष्टिक खाना भी थकावट के लिये उत्तरदायी हो सकते हैं। यदि आप शाम को मदिरापान करते हैं तो यह कारण आपको मध्यरात्री में जगा सकता है। नियमित रूप से अत्यधिक मदिरापान करने से आपको निराशा (डिप्रेशन) हो सकती है और यह आपकी निद्रा को भी प्रभावित कर सकता है। “जब थकावट की शिकायत करने वाले रोगियों के बारे में पता लगता है कि वह कितना अत्यधिक मदिरापान करते हैं तो मैं हमेशा हैरान हो जाती हूं जब अत्यधिक मदिरापान करने वाले रोगी थकावट की शिकायत करते हैं तो मैं हमेशा हैरान होती हूँ,” डा. शाह।

यदि आपका निद्रा पैटर्न अशांत है – उदाहरणार्थ, यदि आप रात्री की शिफ्ट में कार्य करते हैं, दिन में सोते हैं अथवा बच्चों का ध्यान रखते हैं – तो रात्री में अच्छी निद्रा प्राप्त करना कठिन हो सकता है, और आप दिन में थकावट महसूस कर सकते हैं।

अपनी ऊर्जा को बढ़ावा देने हेतु अपनी जीवनशैली में बदलाव कैसे करें के बारे में और अधिक पढ़ें।

थकावट से कैसे निपटें

सदैव थके रहना एक आम बात हो सकती है परन्तु यह प्राकृतिक नहीं है। यदि आप चिंतित हैं तो परामर्श और आश्वासन के लिये अपने डॉक्टर से संपर्क करें। “हम किसी भी गंभीर स्थिति को ख़ारिज कर सकते हैं,” डा. शाह कहती है। “केवल यह जानना कि कुछ गलत नहीं है हमें आश्वस्त कर सकता है।”

अब आपके लिये निद्रा की कमी खराब क्यूँ है पढ़ें।

NHS Logo
शीर्ष पर लौटें