क्या आप कोरोना वायरस को लेकर चिंतित हैं? इसके बारे में जानकारी हासिल करने के लिए हमारे कोरोनावायरस हब पर जाएँ.

×
Your.MD के सभी लेखों (A-Z) की समीक्षा प्रमाणित डॉक्टरों द्वारा की जाती है

सेक्सटिंगः क्या आप इसके खतरे जानते हैं?

अपने किसी जानने वाले को सेक्स संदेश या अपनी सेक्स से जुड़ी तस्वीरें भेजने से हो सकता है कोई नुकसान न हो लेकिन अगर ये किसी दूसरे के हाथ लग गईं तो क्या होगा?

सेक्सटिंग क्या है?

जब लोग फोटो या वीडियो (नग्न या अर्धनग्न सेल्फी भी कहा जाता है) के साथ सेक्सुअल संदेश, किसी ऐप पर या ऑनलाइन भेजते हैं तो उसे सेक्सटिंग कहा जाता है।

लोग ये सेक्स संदेश अपने ब्वायफ्रेंड, गर्लफ्रेंड, या जिसे वे पंसद करते हैं, जिससे वे ऑनलाइन मिले हैं, या किसी दोस्तों के साथ हंसी मजाक में साझा करते हैं।

सेक्स हेल्थ विशेषज्ञों के मुताबिक कुछ युवा औरों की देखा-देखी अपने ऐसी निजी फोटो और संदेश दबाव में आकर दूसरों को शेयर कर देते हैं क्योंकि वे सोचते हैं कि बाकी लोग भी ऐसा ही कर रहे हैं।

शोध बताते हैं कि ऐसा नहीं करना चाहिए और कई बार सेक्सटिंग करना काफी नुकसानदायक हो सकता है।

लोग सेक्सटिंग क्यों करते हैं?

कुछ लोग आमने-सामने बात करने से सेक्सटिंग यानी सेक्स संदेश या फोटो भेजना पसंद करते हैं।

काफी सारे लोग लिखित संदेश, इमेल या इंस्टेंट मैसेजिंग से अपनी वास्तविक भावनाओं, अपनी पसंद और अपनी इच्छाओं को व्यक्त करना ज्यादा आसान पाते हैं।

कई लोगों के लिए ऑनलाइन बात करना रोज़मर्रा के जीवन का हिस्सा है ठीक उसी तरह सोशल मीडिया से फोटो साझा करना भी सामान्य बात है।

ऐसे में उनके लिए सेक्स संदेश भेजना एक छोटी सी बात है खासकर उसे जिसे आप पंसद करते हैं या जिसके साथ आप फ्लर्ट कर रहे हैं।

सेक्सटिंग से क्या गलत हो सकता हैं?

एक बार आपने संदेश भेजने का बटन दबा दिया तो संदेश और फोटो आपके हाथ से निकल जाता है। इसे कोई भी देख सकता है जिसमें आपके मित्र, परिवार के सदस्य या पूरी तरह से अनजान लोग भी शामिल हो सकते हैं।

अगर आप फोटो अपलोड कर देते हैं और उसके बाद ऐसा करने के लिए अफसोस करते हैं, तो इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि आप उसे हटा पाएं। अगर आप इसे डिलीट भी कर देंगे तो हो सकता है यह पहले ही कॉपी हो चुके हों।

इसी प्रकार अगर आप किसी को कोई फोटो या वीडियो भेजते हैं लेकिन साथ ही उन्हें देखने के बाद डिलीट करने के लिए कह देना ही काफी नहीं है। हो सकता है वे उन्हें डिलीट न करना चाहें, या इन्हें कैसे डिलीट करना है उन्हें न आता हो या वे पहले ही इसे औरों के साथ शेयर कर चुके हों या इसे कहीं और सेव कर लिया हो।

आपकी अनुमति के बिना सेक्स्ट यानी सेक्स संदेश या फोटो-वीडियो अन्य लोगों के साथ साझा करना या वेबसाइट्स पर अपलोड करना साइबर बुलिंग (cyber bulling) का ही रूप है।

इससे धमकी भी दी जा सकती है उदाहरण के लिए अगर आपने अपनी और ऐसी तस्वीरें न भेजीं तो आपके परिवार को ये फोटे दिखा दी जाएंगी।

इस मामले के ज्यादा गंभीर होने पर इसे सेक्सटोर्शन(sextortion) का नाम दिया जाता है।

क्या सेक्सटिंग घातक है?

सेक्स्टिंग काफी घातक हो सकता है यह 17 साल के जेम्स(बदला हुआ नाम) से बेहतर कौन समझ सकता है।

ज़ेम्स ने बताया, मैंने अपनी पिछली गर्लफ्रेंड को एक वीडियो मैसेज भेजा था जो किसी ने देख लिया था, उसने इसका स्क्रीन शॉट लिया और उसे ऑनलाइन डाल दिया।

“मुझे जानने वाले कई लोगों ने इसे देखा और मुझे बिगडैल कहा जाने लगा। मैं पूरी तरह से टूट गया और सच कहूं तो मैंने आत्महत्या करने की लगभग ठान ही ली थी। इसके बाद किसी तरह मैंने वह पिक्चर हटवा ली लेकिन उस वक्त तक लोगों ने मुझसे दोस्ती खत्म कर ली थी और जो नुकसान होना था हो चुका था।“

झांसेबाजी

कई बार सेक्सटिंग से अनजान लोग खुद को कम उम्र का बताकर झांसा देकर फंसाने का काम करते हैं।

ऐसा ही 14 साल की कैथरीन के साथ हुआ। उसकी बड़ी बहन अबायगिल 17 साल की थी। वह किसी अजनबी से ऑनलाइन मिली जिसने बताया कि वह भी 17 साल का ही है हालांकि सच में वह 42 साल का था। 

अबायगिल और वह अजनबी गुपचुप फोन कॉल्स और सेक्स चैट में लगे रहे। उस अजनबी ने टीना को भी फोन और मेसेज भेजने शुरू कर दिए।

सौभाग्य से उनकी मां के हाथ एक सेक्स मेसेज लग गया और उन्हें यह पता लगा कि वह आदमी दोनों लड़कियों से स्कूल के बाद मिलने की योजना बना चुका है। उन्होंने पुलिस की मदद ली और उस व्यक्ति ने स्वीकार किया कि उसने अबायगिल को तो फंसा लिया था लेकिन कैथरीन उसके झांसे में नहीं आई।

कैथरीन बुरी तरह से टूट गई। उसने अपनी बहन के समान ही अनुभव झेला था लेकिन उसे महसूस हुआ कि अपने परिवार के अलावा कोई उसकी बात पर भरोसा नहीं कर रहा।

उसे ऐसा लगा उसका आत्मसम्मान खत्म हो गया और उसने खुद को नुकसान पहुंचाना शुरू कर दिया। मनोचिकित्सकों और परिवार की मदद से वह सामान्य हो सकी और वह मानती है कि सेक्सटिंग एक पागलपन है।

वह कहती है कि “मेरी उम्र के ज्यादातर लोगों को लगता है कि सेक्सटिंग करना आम बात है। लेकिन मेरे साथ जो हुआ उसके बाद से मैं अब ज्यादा सतर्क रहती हूं और जानती हूं कि कैसे लोग आपके संदेशों का गलत इस्तेमाल और शोषण कर सकते हैं।“

आप कैसे लोगों को अपनी तस्वीरें देखने से रोक सकते हैं?

अगर आपने अपनी तस्वीरें या वीडियो ऑनलाइन अपलोड कर दी हैं या उन्हें किसी दूसरे को भेज दिया है तो लोगों को उन्हें देखने से रोकने के लिए आपके पास कोई खास तरीका नहीं है।

कुछ एप जैसे स्नैपचैट एक तय अवधि ( 10 सेंकेड के बाद) फोटो को अपने आप नष्ट कर देता है और अगर किसी ने उसका स्क्रीनशॉट लिया हो तो उसकी सूचना भी आपको दी जाती है। लेकिन फिर भी लोग अन्य डिवाइस या एप्स से फोटो की फोटो खींच सकते हैं।

अगर आपकी पिक्चर सोशल मीडिया या ऑनलाइन शेयर की जा रही है तो आमतौर पर आप सर्विस प्रोवाइडर से बात कर उसे हटवा सकते हैं लेकिन इसमें वक्त लगता है और यह हमेशा संभव भी नहीं हो पाता।

अगर कोई जानने वाला सेक्सटिंग करने को कहता है

याद रखें संबंध हमेशा सम्मान और विश्वास पर आधारित होने चाहिए। अगर कोई सच में आपकी इज़्ज़त करता है तो वह आपको ऐसा कोई काम करने के लिए दबाव नहीं डालेगा जो आप नहीं करना चाहते।

कैथरीन कहती हैं कि कोई अगर आपको असहज कर रहा है और ऐसा काम करने को कह रहा है या ऐसी चीज मांग रहा है जो आप समझते हैं कि सही नहीं है तो उससे तुरंत संपर्क तोड़ दें। 

अपने माता-पिता से इस बारे में बात करें या अगर ऐसी कोई बात है जो आप समझते हैं उनसे साझा नहीं कर सकते तो उसके बारे में किसी अन्य विश्वासप्रद वयस्क या सर्विस से बात करें।

“उनसे अकेले निपटने की कोशिश न करें।“

  असली नाम छिपाए गए हैं।

सामग्री का स्त्रोतNHS लोगोnhs.uk

क्या ये लेख आपके लिए उपयोगी है?

ऊपर जाएँ

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।