हस्तमैथुन प्रश्न और उत्तर

हस्तमैथुन को ले कर कई अजीबो - गरीब दावे किये जाते हैं, उदाहरण के लिए इससे अंधापन, पागलपन और मुँहासे होते हैं और यहां तक ​​कि बालों के विकास में भी वृद्धि होती है।

हम काल्पनिक बातों से तथ्यों को अलग करते हैं और उस विषय पर आपके सवालों के जवाब देते हैं जो शायद इस दुनिया में सबसे ज़्यादा की जाने वाली यौन गतिविधियों में से एक है।

हस्तमैथुन क्या है?

हस्तमैथुन में अपने जननांगों को छूकर खुद को उत्तेजित किया जाता है। पुरुष और महिला दोनों हस्तमैथुन कर सकते हैं, और आप खुद अपना या किसी और का हस्तमैथुन कर सकते हैं।

क्या हस्तमैथुन सामान्य है?

हाँ। इससे मिलने वाली खुशी के अलावा, हस्तमैथुन करने से आपको यह सीखने में मदद मिल सकती है कि आपको क्या पसंद है और क्या आपकी यौन पसंद नहीं है। पुरुष हस्तमैथुन का इस्तेमाल करके सीख सकते हैं कि अपनी कामोत्तेजना की चरम स्थिति को कैसे नियंत्रित किया जाए, जबकि महिलाएं यह पता लगा सकती हैं कि उन्हें कामोत्तेजना की चरम स्थिति पाने में क्या मदद करता है। कई जोड़े एक साथ हस्तमैथुन करते हैं और इसे अपने रिश्ते का एक बहुत ही सुखद हिस्सा मानते हैं। बाकी लोग ऐसा नहीं करते हैं और यह एकदम ठीक है: यह एक व्यक्तिगत पसंद है।

हस्तमैथुन कैसे किया जाता है?

हस्तमैथुन करने का कोई सही या गलत तरीका नहीं है। पुरुष आमतौर पर अपने लिंग को रगड़ कर ऐसा करते हैं। महिलाएं आमतौर पर अपने क्लिटोरिस और योनि के आस-पास के क्षेत्र को छूती हैं। योनि के प्रवेश द्वार के सामने की छोटी नरम गांठ को क्लिटोरिस कहते है। यह बहुत संवेदनशील होती है, और इसे छूने और हिलाने से बहुत अधिक यौन सुख मिलता है। अधिकांश महिलाओं को सेक्स या हस्तमैथुन के दौरान कामोत्तेजना की चरम स्थिति को पाने के लिए क्लिटोरिस को उत्तेजित करने की आवश्यकता होती है।

स्खलन क्या है?

स्खलन तब होता है जब एक आदमी को कामोत्तेजना की चरम स्थिति का सुख मिलता है और वीर्य लिंग से बाहर निकलता है। आमतौर पर लगभग 5 मिलीलीटर तक तरल निकलता है, लेकिन ये अधिक भी हो सकता है, खासकर जब किसी आदमी ने काफी समय से स्खलन न किया हो। महिलाएं भी तरल पदार्थ का स्खलन कर सकती हैं, लेकिन यह पुरुषों की तुलना में बहुत कम होता है।

क्या हस्तमैथुन सुरक्षित है?

हाँ। जानकारी के लिए बता दें, हस्तमैथुन करने से अंधापन, पागलपन या मुँहासे नहीं होते हैं और आपकी हथेलियों पर बाल भी नहीं उगेंगे। मजाक छोड़ कर बात करें तो, इसमें गर्भावस्था या यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) होने का कोई जोखिम नहीं है , हालांकि संक्रमण का खतरा ज़रूर है अगर आप किसी और के जननांगों को छू कर अपने जननांगों को छूते हैं तो। इसका कारण यह है कि एसटीआई संक्रमित वीर्य या योनि द्रव के माध्यम से फ़ैल सकता है।

अगर आप हस्तमैथुन के दौरान सेक्स टॉयज का इस्तेमाल करते हैं और एसटीआई वाले किसी अन्य व्यक्ति ने आपसे पहले इनका इस्तेमाल किया है तो संक्रमण का खतरा होता है। सेक्स के लिए इस्तेमाल की गई किसी भी वस्तु को सेक्स टॉय कहा जा सकता है, चाहे वह इस उपयोग के लिए बनाई गई हो या नहीं। सेक्स टॉयज को साफ रखना जरूरी है। यदि आप सेक्स टॉय साझा कर रहे हैं, तो उन्हें प्रत्येक उपयोग के बाद धो लें और यदि संभव हो तो, हर बार उन पर एक नया कंडोम लगाएं।

हस्तमैथुन करते समय क्या आप घायल हो सकते हैं?

वैसे तो हस्तमैथुन से कोई नुकसान नहीं होता लेकिन अगर आप बहुत ही बेदर्दी से या बहुत ज़ोर से हस्तमैथुन करते हैं तो इसमें सूजन, कट या चोट लगने का खतरा है, या आप किसी ऐसी वस्तु का इस्तेमाल करते हैं जो आपको चोट या नुकसान पहुंचा सकती है तो ये खतरनाक है। पुरुषों को कभी-कभी इस बात की चिंता होती है कि क्या उनका लिंग टूट जायेगा। यह दुर्लभ है और केवल तब होता है जब एक तने लिंग को बेरहमी से मोड़ दिया जाता है, आमतौर पर किसी और के द्वारा। लिंग के पाँच तथ्यों में और अधिक जानकारी प्राप्त करें।

क्या हस्तमैथुन से शुक्राणुओं की संख्या पर प्रभाव पड़ता है?

हस्तमैथुन करने से किसी पुरुष की शुक्राणु पैदा करने की क्षमता पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता। पुरुष के शुक्राणु कभी ख़त्म नहीं होते, क्योंकि वे लगातार पैदा होते रहते हैं। एक आदमी को स्खलन के बाद, फिर से स्खलन करने में कुछ समय लगता है। यह सामान्य है और इसका मतलब यह नहीं है कि उसके शुक्राणु में कुछ गड़बड़ी है।

क्या आप बहुत अधिक हस्तमैथुन कर सकते हैं?

हस्तमैथुन के कोई नुकसान नहीं है, लेकिन यदि आप इसे बहुत ज़्यादा करते हैं तो आपके जननांगों में सूजन आ सकती है। यदि पुरुष थोड़े थोड़े समय के अंतराल में ये करते हैं, तो उनके लिंग में थोड़ी सूजन आ सकती है जिसे देख के वे चिंतित हो सकते हैं, जिसे एडिमा कहा जाता है, जो ऊतकों में तरल पदार्थ के कारण होता है। सूजन कुछ दिनों के भीतर गायब हो जाती है। हालांकि, यदि आपको लगता है कि हस्तमैथुन करने की आपकी ज़रूरत आपके रोजमर्रा के जीवन में हस्तक्षेप कर रही है, तो डॉक्टर से बात करने से आपको मदद मिल सकती है।

NHS Logo
शीर्ष पर लौटें