बलगम में रक्त आना

आमतौर पर तंदुरुस्त जवान लोगों में, खांसने पर खून आना शायद ही कभी गंभीर बीमारी का लक्षण होता है।

परिचय

बलगम में रक्त आना खतरनाक हो सकता है, लेकिन यदि आप जवान हैं और अन्यथा स्वस्थ हैं तो यह सामान्यतःकिसी गंभीर समस्या का संकेत नहीं होता है। यह बुजुर्ग लोगों में, विशेषकर जो धूम्रपान करते हैं, उनमें चिंता का ही एक और कारण होता है।
खांसी में रक्त आने को चिकित्सा की भाषा में हैमोप्टिसिस कहा जाता है। आपको चमकीले लाल रक्त की थोड़ी मात्रा, या झागदार रक्तस्राव वाला कफ (लार और बलगम) के साथ खांसी हो सकती है। रक्त सामान्यतः आपके फेफड़ों से आता है तथा अक्सर लंबे समय तक खांसी होने या सीने में संक्रमण के कारण होता है।
यदि रक्त कालेपन में हो तथा उसमें भोजन के टुकड़े हों या कॉफी के तलछट जैसा दिखाई देता हो, तो यह आपकी पाचन प्रणाली से आया हुआ हो सकता है। यह एक अधिक गंभीर समस्या होती है तथा आपको सीधे अस्पताल जाना चाहिए। रक्त की उल्टी के बारे में और पढ़ें।

यदि आपकी खांसी में रक्त आता है तो क्या करें

यदि आपकी खांसी में रक्त आता है तो जितना जल्दी हो सके अपने डॉक्टर से मिलें। अपने डॉक्टर से मिलना विशेषरूप से तब महत्वपूर्ण होता है यदि:

  • आप खांसते हैं तो कुछ चम्मच से अधिक रक्त निकलता है
  • आपके सीने में भी दर्द होता हो, बुखार, हल्का सिरदर्द या सांस लेने में तकलीफ बढ़ती है
  • आपको भूख कम लगती है या रहस्यमय तरीके से वजन कम होता है
  • आपकी पेशाब में या आपके मल में भी रक्त आता है

आपका डॉक्टर यह पता लगाने में सक्षम होगा कि क्या आपकी हालत चिकित्सीय रूप से गंभीर है जिसके लिए जांच-पड़ताल और उपचार की जरूरत हो। यदि आप अपने डॉक्टर से नहीं मिल पाते हैं तो अपने स्थानीय रूप से उपलब्ध स्वास्थ्य देखभाल सेवा को कॉल करें।

यदि आपको उल्लेखनीय मात्रा में रक्त के साथ खांसी आती है या सांस लेने में जोर लगाना पड़ता है तो तुरंत एम्बुलेंस के लिए कॉल करें या अपने समीप के आपातकालीन विभाग में जाएं।

परीक्षण जिनकी जरूरत हो सकती है

आपको अपने थूक के सैंपल के लिए कहा जा सकता है जिससे संक्रमण की जांच की जा सके। रक्त के परीक्षण जैसे अन्य परीक्षणों, की भी जरूरत हो सकती है।

छाती का एक्स-रे या और अधिक विस्तृत स्कैन, जैसे कंप्यूटरीकृत टोमोग्राफी (सीटी) के लिए, आपका डॉक्टर आपके स्थानीय अस्पताल में विशेषज्ञ के पास भेजने का निर्णय ले सकता है।

कुछ मामलों में, रक्त कहां से आ रहा है यह पता लगाने के लिए कुछ और परीक्षणों की जरूरत हो सकती है। उदाहरण के लिए, आपको विशेषज्ञ के पास भेजा जा सकता है जो ब्रोंकोस्कोपी (जहां एक सिरे पर कैमरा युक्त ट्यूब का प्रयोग करके आपके फेफड़ों के मुख्य वायु मार्गों की जांच की जाती है) कहे जाने वाले परीक्षण की व्यवस्था करने का निर्णय ले सकता है।

यह पृष्ठ आपको इसके कारण के बारे में एक बेहतर विचार दे सकता है, लेकिन इसका उपयोग अपने रोग का निर्णय लेने के लिए न करें। इसे सदैव डॉक्टर को ही करने दें।

खांसी में रक्त आने के आम कारण

खांसी में रक्त आने के लिए सबसे आम कारण हैं:

  • लंबे समय से, गंभीर खांसी

  • छाती में संक्रमण- यदि आपका थूक बेरंग है अथवा इसमें मवाद है, आपको बुखार है, या आपको अपनी छाती में खिंचाव महसूस होता है तो इसकी अधिक संभावना है

  • ब्रॉकिक्टेसिस – यदि आपको घरघराहट या सांस लेने में भी कठिनाई होती है तो इसकी अधिक संभावना होती है। कभी-कभी नाक से गंभीर रूप से रक्त निकलना या मुंह अथवा गले से रक्तस्राव होना भी आपके खांसते समय आपकी लार से रक्त आने का कारण हो सकता है।

खांसी में रक्त आने के कम सामान्य कारण

कम सामान्यतः, खांसी में रक्त आना इनके कारण हो सकता है:

  • पल्मोनरी एम्बोलिज्म (फेफड़ों में रक्त का थक्का)- यह अचानक सांस में तकलीफ और छाती में दर्द पैदा करता है

  • पल्मोनरी एडेमा (फेफड़ों में तरल पदार्थ)- आपका थूक गुलाबी और झागदार होगा, और यह सामान्यतः पहले से दिल की समस्याओं से पीड़ित व्यक्तियों में होता है

  • फेफड़े का कैंसर- यदि आपकी उम्र 40 साल से अधिक है तथा आप धूम्रपान करते हैं
  • तपेदिक (टीबी)- बुखार और पसीने से संबद्ध फेफड़े का गंभीर संक्रमण; यह ग्रेट ब्रिटेन में अधिक आम हो रहा है, लेकिन लंबे समय तक एंटीबायोटिक दवाओं से उपचार किया जा सकता है
  • गले या सांस की नली का कैंसर
  • एंटीकोएगुलेंट लेना –दवाइयां जो आपके रक्त के थक्कों को रोकती हैं, जैसे वारफरीन, रिवरोक्साबान, या डाबीगट्रान

कभी-कभी, कोई कारण नहीं मिल सकता है और यह फिर कभी नहीं होता है।

द्वारा उपलब्ध कराई गई विषय वस्तु NHS Choices