कंडोम (पुरुष और महिलाएँ)

परिचय

कंडोम बाधा गर्भनिरोधक का एक रूप हैं। वो शुक्राणु को अंडे तक पहुँचने से रोककर गर्भावस्था को रोकते हैं।

कंडोम, एचआईवी सहित, यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) को एक यौन साथी से दूसरे में फैलने से रोकने में भी सहायता कर सकते हैं। वो भेदक सम्भोग (योनि या गुदा) और मुख मैथुन में उपयोग किये जाने पर एसटीआई से रक्षा करते हैं।

कंडोम गर्भनिरोधक का एकमात्र रूप है जो गर्भावस्था और एसटीआई दोनों से बचाता है।

कंडोम का सही ढंग से उपयोग करना महत्वपूर्ण है, और यह सुनिश्चित करना कि कंडोम लगाने से पहले लिंग योनि के साथ संपर्क नहीं बनाता है, ताकि भागीदारों के बीच एसटीआई पारित होने के जोखिम से बचा जा सके।

पता करें कंडोम का प्रयोग कैसे करें

यदि सही तरीके से उपयोग किया जाए, तो गर्भधारण को रोकने में पुरुष कंडोम 98% प्रभावी है। महिला कंडोम को लगभग 95% प्रभावी माना जाता है।

कंडोम बहुत पतले लेटेक्स रबर या बहुत पतले प्लास्टिक (या तो पॉलीआईसोप्रीन या पॉलीयुरेथेन) से बने होते हैं। प्रत्येक पैक को गुणवत्ता के प्रमाण के रूप में ब्रिटिश बीएसआई काईटमार्क या यूरोपीय सीई मार्का प्रदर्शित करना चाहिए, और कंडोम की समाप्ति की तारीख स्पष्ट रूप से बतानी चाहिए। तारीख समाप्त हुए कंडोम का उपयोग न करें।

कौन से कंडोम मेरे और मेरे साथी के लिए उपयुक्त हैं?

यूके में पुरुष और महिला कंडोम, दोनों उपलब्ध हैं और अधिकतर लोगों के लिए उपयुक्त हैं। पुरुष कंडोम एक पुरुष के लिंग पर फिट बैठता है। महिला कंडोम योनि में लगाया जाता है और उसके इर्दगिर्द रेखांकित होता है। यह आपके और आपके साथी पर निर्भर है कि आप किस प्रकार का कंडोम उपयोग करते हैं।

पुरुष कंडोम की कई अलग-अलग किस्में और ब्रांड हैं। यूके में फ़िलहाल, महिला कंडोम का केवल एक ब्रांड उपलब्ध है, जिसे फेमीडॉम कहा जाता है।

अधिकतर लोग कंडोम का सुरक्षित उपयोग कर सकते हैं। हालाँकि, वो सभी के लिए गर्भनिरोधक का सबसे उपयुक्त तरीका नहीं भी हो सकते हैं:

  • कुछ पुरुष और महिलाएँ पुरुष लेटेक्स कंडोम में रसायनों के प्रति संवेदनशील होते हैं। यदि यह एक समस्या है, तो पॉलीयुरेथेन कंडोम का एलर्जिक प्रतिक्रिया होने में कम जोखिम है।
  • जिन पुरुषों को खड़ा रखने में कठिनाई होती है, वो पुरुष कंडोम का उपयोग करने में सक्षम नहीं होंगे क्योंकि लिंग को कंडोम से रिसने वाले शुक्राणु को रोकने या कंडोम को फिसलने से रोकने के लिए खड़ा होना होगा।
  • महिला कंडोम उन महिलाओं के लिए सबसे उपयुक्त गर्भनिरोधक नहीं होगा जो अपने जननांग क्षेत्र को छूने में सहज महसूस नहीं करती हैं।

कंडोम का उपयोग करते समय विचारों के बारे में और पढ़ें।

मुझे कंडोम कहाँ मिल सकते हैं?

हर कोई मुफ़्त कंडोम प्राप्त कर सकता है, भले ही वो 16 वर्ष से कम के हों। वो आपके स्थानीय क्षेत्र में निम्नलिखित स्थानों से उपलब्ध हैं:

  • परिवार नियोजन क्लीनिक
  • यौन स्वास्थ्य या जीयूएम (जेनीटोयूरिनरी दवाई) क्लीनिक
  • कुछ डॉक्टर सर्जरी
  • ब्रूक सलाहकार केंद्र (केवल 25 से कम वर्ष वालों के लिए)
  • समलैंगिक पब और क्लब

आप यहाँ से भी पुरुष और महिला कंडोम खरीद सकते हैं:

  • औषधालय
  • सुपरमार्केट
  • पेट्रोल स्टेशन
  • सार्वजनिक शौचालयों में वेंडिंग मशीन
  • वेबसाइट
  • मेल-ऑर्डर कैटलॉग

यदि आप ऑनलाइन कंडोम खरीदते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप उन्हें औषध विक्रेता या अन्य वैध खुदरा विक्रेताओं से खरीदें। गुणवत्ता आश्वासन के संकेत के रूप में हमेशा यूरोपीय सीई मार्का या ब्रिटिश बीएसआई काईटमार्क वाले कंडोम का चयन करें।

कंडोम और सभी यौन स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में जानकारी के लिए, 0845 122 8690 पर एफपीए द्वारा संचालित यौन स्वास्थ्य डायरेक्ट को कॉल करें।

ध्यान रखने की बातें

यह विचार करना महत्वपूर्ण है कि गर्भनिरोधक का कौन सा रूप आपके और आपके साथी के लिए सही है। कंडोम का सही उपयोग करना ध्यान रखें, और अतिरिक्त सुरक्षा के लिए गर्भनिरोधक के अन्य साधनों का उपयोग करने पर विचार करें।

लाभ

  • जब सही और लगातार उपयोग किया जाए, तो कंडोम गर्भावस्था को रोकने का एक विश्वसनीय तरीका है।
  • वो एचआईवी सहित यौन संचारित संक्रमणों (एसटीआई) से दोनों भागीदारों को बचाने में सहायता करते हैं।
  • आपको केवल सम्भोग करते समय उनका उपयोग करने की आवश्यकता है। उन्हें अग्रिम तैयारी की आवश्यकता नहीं है और अनियोजित सम्भोग के लिए उपयुक्त हैं।
  • अधिकतर मामलों में, कंडोम का उपयोग करने से कोई चिकित्सा दुष्प्रभाव नहीं होते हैं। कुछ लोगों को लेटेक्स, प्लास्टिक या शुक्राणुनाशकों से एलर्जी हो सकती है, हालाँकि यह दुर्लभ है। आप ऐसे कंडोम प्रयोग कर सकते हैं जिससे एलर्जी की प्रतिक्रिया का कम जोखिम होता है।
  • पुरुष कंडोम प्राप्त करना आसान है और सभी के अनुरूप विभिन्न प्रकार के आकार, माप और स्वाद में आते हैं।
  • महिला कंडोम (फेमीडॉम) को सम्भोग से आठ घंटे पहले डाला जा सकता है, और इसका मतलब है कि महिलाएँ अपने साथी के साथ कंडोम का उपयोग करने की ज़िम्मेदारी साझा करती हैं।

हानि

  • कुछ जोड़ों को लगता है कि कंडोम का उपयोग करने से सम्भोग बाधित होता है। इससे निपटने के लिए, कंडोम का उपयोग सम्भोग-पूर्व क्रिया का हिस्सा बनाने का प्रयास करें।
  • कंडोम बहुत मज़बूत होते हैं, लेकिन यदि ठीक से उपयोग नहीं किए जाएँ तो टूट या फट सकते हैं।
  • कुछ लोगों को लेटेक्स रबर, प्लास्टिक या शुक्राणुनाशकों से एलर्जी हो सकती है। हालाँकि, आप ऐसे कंडोम प्राप्त कर सकते हैं जिनमें एलर्जी की प्रतिक्रिया के कारण कम जोखिम होता है।
  • पुरुष कंडोम का उपयोग करते समय, पुरुष को स्खलन के बाद बाहर निकालना होता है और लिंग के नरम होने से पहले कंडोम को मज़बूती से पकड़ना होता है।
  • महिला कंडोम का उपयोग करते समय, पुरुष के लिंग को कंडोम में प्रवेश करना होगा, न कि कंडोम और योनि के बीच में। कंडोम का खुला सिरा योनि के बाहर रहना चाहिए।
  • महिला कंडोम (फेमीडॉम) पुरुष कंडोम के मुकाबले व्यापक रूप में उपलब्ध नहीं हैं और खरीदने में अधिक महंगे होते हैं।

क्या कुछ भी कंडोम को कम प्रभावी बना सकता है?

कभी-कभी कंडोम का उपयोग करने पर भी शुक्राणु सम्भोग के दौरान योनि में जा सकता है। ऐसा तब हो सकता है जब:

  • एक कंडोम लगाने से पहले लिंग योनि के आस-पास के क्षेत्र को छूता है
  • कंडोम टूट जाता है
  • पुरुष कंडोम फिसल जाता है
  • महिला कंडोम योनि में बहुत अन्दर धकेल दिया जाता है
  • पुरुष का लिंग गलती से महिला कंडोम के बाहर योनि में प्रवेश करता है
  • कंडोम तेज़ नख या आभूषण से खराब हो जाता है
  • आप लेटेक्स कंडोम के साथ बेबी-ऑयल या पेट्रोलियम जेली जैसे तेल-आधारित स्नेहक का उपयोग करते हैं - यह कंडोम को नुकसान पहुँचाता है
  • आप योनी संक्रमण जैसी स्थितियों के लिए दवा का उपयोग कर रही हैं, जैसे क्रीम, पेसरी या सपोसिटरी - यह लेटेक्स कंडोम को नुकसान पहुँचा सकते हैं और उनका ठीक से काम करना बंद कर सकते हैं

गर्भावस्था के खिलाफ अतिरिक्त सुरक्षा के लिए, कंडोम के ही साथ, आप गर्भनिरोधक के अन्य रूपों का उपयोग कर सकते हैं, जैसे कि गर्भनिरोधक गोली। हालाँकि, गर्भनिरोधक के अन्य रूप आपको यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) से नहीं बचाएँगे। अगर कंडोम फटता है तो भी आपको एसटीआई का खतरा रहेगा।

शुक्राणुनाशक और स्नेहक

शुक्राणुनाशक

कुछ पुरुष कंडोम में शुक्राणुनाशक से चिकनाहट दी जाती है, एक रसायन जो शुक्राणु को मारता है। इन कंडोम को धीरे-धीरे चलन के बाहर किया जा रहा है क्योंकि शोध में पाया गया है कि नॉनॉक्सिनॉल 9 नामक एक शुक्राणुनाशक एसटीआई जैसे कि क्लैमीडिया और एचआईवी से सुरक्षा नहीं देता है और संक्रमण का खतरा बढ़ा भी सकता है।

एक अतिरिक्त स्नेहक के रूप में शुक्राणुनाशक-चिकनाई वाले कंडोम, या शुक्राणुनाशक के उपयोग से बचना सबसे अच्छा है।

स्नेहक

कंडोम चिकनाहट के साथ तैयार आते हैं ताकि उनका उपयोग आसान हो, लेकिन आप अतिरिक्त स्नेहक का उपयोग करना भी पसंद कर सकते हैं। यह विशेष रूप से गुदा सम्भोग के लिए सलाह दी जाती है ताकि कंडोम के टूटने की संभावना कम हो।

किसी भी प्रकार के स्नेहक का उपयोग पुरुष या महिला पॉलीयूरेथेन कंडोम के साथ किया जा सकता है। यदि आप पुरुष लेटेक्स कंडोम का उपयोग कर रहे हैं, तो शारीरिक तेल, पेट्रोलियम जेली या क्रीम जैसे तेल-आधारित स्नेहक का उपयोग न करें, क्योंकि वो लेटेक्स को नुकसान पहुँचा सकते हैं और कंडोम को तोड़ने की अधिक संभावना रखते हैं।

यदि आप अपने जननांग क्षेत्र पर दवा का उपयोग कर रही हैं, जैसे योनी संक्रमण के इलाज के लिए क्रीम या पेसरी, तो इसका लेटेक्स कंडोम पर असर पड़ सकता है। निर्देशों को जाँचें या अपने चिकित्सक से पूछें अगर उपचार लेटेक्स कंडोम को प्रभावित करेगा।

कंडोम का प्रयोग कैसे करें

कंडोम गर्भनिरोधक की एक बाधा विधि है। वो दोनों के बीच एक शारीरिक अवरोध बनाकर शुक्राणु को अंडे तक पहुँचने से रोकते हुए अनचाहे गर्भधारण को अवरुद्ध करते हैं।

गर्भधारण और यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई), दोनों से सुरक्षा प्रदान करने के लिए कंडोम गर्भनिरोधक का एकमात्र रूप है। वो योनि, गुदा और मुख मैथुन के दौरान सही तरीके से उपयोग किए जाने पर एसटीआई से बचाव में सहायता करते हैं।

कंडोम लगाने से पहले लिंग का योनि से संपर्क नहीं होना चाहिए। ऐसा इसलिए है क्योंकि किसी पुरुष के पूरी तरह से स्खलित होने से पहले शुक्राणु लिंग से बाहर आ सकता है। यदि ऐसा होता है, या यदि पुरुष या महिला कंडोम का उपयोग करते हुए वीर्य योनि में प्रवेश करता है, तो अपने चिकित्सक या यौन स्वास्थ्य क्लिनिक से आपातकालीन गर्भनिरोधक के बारे में सलाह लें। इसके अलावा, एसटीआई परीक्षण कराने पर विचार करें।

कंडोम के साथ-साथ गर्भनिरोधक की एक और विधि का उपयोग करना सबसे अच्छा है। अगर कंडोम फट या फिसल जाता है तो यह अनचाही गर्भावस्था से बचाव करेगा।

पुरुष कंडोम का उपयोग करना

पुरुष कंडोम पुरुष के खड़े लिंग पर फिट बैठता है और लिंग को उसके साथी की योनि, गुदा या मुँह के संपर्क में आने से पहले लगाना चाहिए। पुरुष कंडोम का उपयोग करने के लिए:

  • कंडोम को पैकेट से बाहर निकाल लें, सावधानी बरतते हुए कि कंडोम आभूषण या नाखूनों से न फटें। पैकेट को अपने दाँतों से न खोलें।
  • अपनी उंगली और अंगूठे के बीच कंडोम के छोर की निप्पल को पकड़ें, यह सुनिश्चित करें कि यह सही दिशा में पूरा खुल जाए और अंदर कोई हवा न फँसे।
  • निप्पल को पकड़े हुए, कंडोम को खड़े लिंग की नोक पर रखें।
  • लिंग के आधार तक कंडोम को धीरे से नीचे उतारें।
  • यदि कंडोम खुलता नहीं है, तो आप शायद इसे गलत दिशा से पकड़ रहे हैं। यदि ऐसा होता है, तो कंडोम को फेंक दें, क्योंकि उस पर शुक्राणु हो सकते हैं, और एक नए कंडोम से शुरू करें।
  • सम्भोग के बाद, लिंग को तभी निकाल लें जब वह खड़ा है। ऐसा करते हुए, यह सुनिश्चित करने के लिए कंडोम फिसले नहीं, कंडोम को लिंग के आधार पर पकड़ें रहें।
  • कंडोम को लिंग से निकालें, यह ध्यान रखते हुए कि कोई भी शुक्राणु न गिरे। इसे कागज़ में लपेटें और एक कूड़ेदान में डालें। इसे शौचालय में न बहाएँ।
  • सुनिश्चित करें कि पुरुष का लिंग फिर से अपने साथी के जननांग क्षेत्र को न छुए। यदि आप दोबारा सम्भोग करते हैं, तो एक नए कंडोम का उपयोग करें।

कंडोम लगाने से सम्भोग में रुकावट नहीं आती है, और कई लोग इसे सम्भोग-पूर्व क्रिया का आनंददायक हिस्सा मानते हैं।

महिला कंडोम का उपयोग करना

महिला कंडोम पॉलीयुरेथेन से बना होता है और योनि के अंदर पहना जाता है ताकि शुक्राणु को गर्भ में जाने से रोका जा सके। योनि और लिंग के बीच कोई संपर्क होने से पहले इसे योनि में डालने की आवश्यकता होती है। इसे सम्भोग से आठ घंटे पहले तक लगाया जा सकता है।

  • महिला कंडोम को पैकेट से बाहर निकालें, सावधान रहते हुए कि कंडोम आभूषण या नाखूनों से न फटे। पैकेट को अपने दाँतों से न खोलें।
  • अपनी अंगुली और अंगूठे से कंडोम के बंद सिरे पर छोटे चक्र को निचोड़ें।
  • उंगली और अंगूठे का उपयोग करते हुए, कंडोम को योनि में जितना संभव हो, उतना अन्दर धकेलें। सुनिश्चित करें कि महिला कंडोम के खुले सिरे में बड़ा चक्र योनि के छिद्र के आसपास के क्षेत्र को ढकता है।
  • कंडोम का बाहरी चक्र सम्भोग के दौरान हर समय योनि के बाहर होना चाहिए। यदि बाहरी चक्र योनि के अंदर धकेला जाता है, तो रुकें और वापस सही जगह पर रखें।
  • सुनिश्चित करें कि लिंग महिला कंडोम में प्रवेश करे, और कंडोम और योनि के किनारे के बीच नहीं।
  • सम्भोग के बाद, इसे हटाने के लिए कंडोम के छोर को थोड़ा मोड़ें और खींचें, इस बात का ध्यान रखते हुए कि योनि पर कोई शुक्राणु न गिरे। कंडोम को कागज़ में लपेटें और इसे एक कूड़ेदान में डालें। इसे शौचालय में न बहाएँ।

यदि आप एक से अधिक बार सम्भोग करते हैं, तो एक नए कंडोम का उपयोग करें। कभी भी कंडोम का पुनः उपयोग न करें और कभी भी एक साथ दो कंडोम का उपयोग न करें। पैकेट पर हमेशा समाप्ति की तारीख जाँचें।

NHS Logo
शीर्ष पर लौटें