क्या आप कोरोना वायरस को लेकर चिंतित हैं? इसके बारे में जानकारी हासिल करने के लिए हमारे कोरोनावायरस हब पर जाएँ.

×
स्वास्थ्य

मेरी खाँसी में ख़ून क्यूँ आ रहा है?

28 July 2020 in स्वास्थ्य

__ लेखक: एलेक्स बसी
सम्पादक: माइक मार्टिन

समीक्षा: Your.MD Medical team __ के द्वारा

खाँसी में ख़ून आना भयावह हो सकता है, लेकिन यह हमेशा किसी गंभीर मेडिकल इमर्जन्सी का संकेत नहीं होता है।

कई मामलों में ये लगातार खांसी या छाती में संक्रमण का परिणाम हो सकता है जो अक्सर अपने आप ही ठीक हो जाता है, लेकिन इसकी जाँच हमेशा एक डॉक्टर से करवानी चाहिए।

हालांकि, कुछ समय खांसी में ख़ून आना(या हेमोप्टाइसिस) अधिक गंभीर स्थिति के लक्षण हो सकते हैं।

उदाहरण के लिए, भूरे रंग का खून, या ऐसा खून जो ग्राउंड कॉफ़ी जैसा दिखायी दे, यह संकेत हो सकता है कि आपके पाचन तंत्(डायजेस्टिव ट्रैक्ट) से खून बह रहा हो।

झागदार, गुलाबी थूक हार्ट फ़ेल होने का संकेत हो सकता है।

यदि आप इनमें से किसी भी स्थिति का अनुभव करते हैं, या आपकी खाँसी से अधिक मात्रा में ख़ून निकले या आप सांस लेने के लिए संघर्ष कर रहे हैं, तो आपको एम्बुलेंस को कॉल करना चाहिए या सीधे अपने निकटतम आपातकालीन केंद्र में जाना चाहिए।

हमेशा एक डॉक्टर से मिलें

एक डॉक्टर को दिखाना इसीलिए महत्वपूर्ण है क्यूँकि अगर आपको खून की खांसी हो रही है, तो डॉक्टर ये पता लगाने की कोशिश करेंगे की इसके पीछे कोई गंभीर मेडिकल स्थिति जैसे कि पलमोनरी एम्बलिज़म (https://www.your.md/condition/pulmonary-), या फेफड़े का फोड़ा या हार्ट फ़ेल्यर तो नहीं।

वे यह भी पता लगा पाएंगे कि क्या यह अन्य चिकित्सा स्थितियों जैसे छाती में संक्रमण या लंबे समय तक रहने वाली खांसी के कारण हो रहा है, और आपको आगे के लिए सलाह देंगे।

खाँसी में ख़ून आने पर ख़ुद से ये सवाल करें

यदि आपको खाँसी में ख़ून आ रहा हो, तो आपको किसी डॉक्टर से मिलना चाहिए और इसके कारण का ख़ुद से पता लगाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।

लेकिन यदि आप संभावित कारणों के बारे में अधिक जानना चाहते हैं, मेडिकल सहायता प्राप्त करने के अलावा, आप अपने आप से निम्नलिखित प्रश्न पूछकर भी ये जान सकते हैं।

क्या आपको बहुत खांसी आ रही है?

यदि आपको खाँसी में खून आता है और आपको बलगम या थूक का उत्पादन होता है, तो आपके सीने में संक्रमण हो सकता है, जैसे निमोनिया, टीबी या ब्रोंकाइटिस। यह वह जगह है जहां बैक्टीरिया या अन्य रोगाणु आपके फेफड़ों और वायुमार्ग के टिश्युस को संक्रमित करते हैं।

सीने में संक्रमण, एक भरी हुई या बहती नाक, गले में खराश, सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द या उच्च तापमान जैसे लक्षण भी पैदा कर सकता है। लगभग 70% से 90% वयस्क जिन्हें खांसी में ख़ून आता है, उन्हें छाती में संक्रमण होने की सम्भावना होती है।

अधिकांश छाती का संक्रमण 7 से 10 दिनों में साफ हो जाता है, लेकिन कुछ लोगों को क्रोनिक ब्रॉन्काइटिस जैसी पुरानी या दीर्घकालिक छाती का रोग विकसित हो सकता है, जो कई महीनों या कभी-कभी वर्षों तक रह सकता है।

डॉक्टर उस चिकित्सा स्थिति का पता लगाने में मदद करेंगे जो इसका कारण हो सकते हैं, और आगे होने वाली जटिलताओं के जोखिम को कम करने की कोशिश करेंगे।

वे आपकी स्थिति की जाँच करने के लिए आपकी छाती के एक्स-रे करने का परामर्श दे सकते हैं। यदि उन्हें लगता है जीवाणु संक्रमण के कारण आपकी छाती संक्रमित है, तो वे एंटीबायोटिक दवाओं का एक कोर्स भी लिख सकते हैं।

छाती का एक्स-रे देख रहे डॉक्टर

क्या आपको साँस लेने में घरघराहट, सांस की कमी या बहुत थकान हो रही है?

यदि आपको खून की खांसी हो रही है और आपको सांस की तकलीफ या सांस की कमी हो रही है, तो आपको ब्रोन्किइक्टेसिस(bronchiectasis) नामक बीमारी हो सकती है। यह वह जगह है जहां आपके फेफड़ों का वायुमार्ग चौड़ा हो जाता है और सूजन हो जाती है।

ब्रोंकिएक्टेसिस अक्सर निमोनिया या तपेदिक के गंभीर रूप के कारण होता है। यह उन स्थितियों से भी जुड़ा हो सकता है जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली, इंफ़्लमेटरी बोवेल डिज़ीज़, अस्थमा या सारकॉइडोसिस(sarcoidosis) को प्रभावित करते हैं - जहां अंगों और आमतौर पर फेफड़ों और त्वचा में लाल और सूजे हुए टिश्युस के पैच विकसित होते हैं।

लगभग 50% मामले इडियोपैथिक होते हैं, जिसका अर्थ है कि डॉक्टर स्पष्ट कारण की पहचान नहीं कर सकते हैं।

ब्रोन्किइक्टेसिस के लक्षण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न होते हैं, लेकिन कुछ सामान्य लक्षणों में शामिल हैं:

  • बार-बार छाती में संक्रमण
  • बहुत अधिक थकान महसूस करना या ध्यान केंद्रित करना कठिन लगना
  • सांस फूलना
  • आपके साइनस के साथ समस्या

ब्रोन्किइक्टेसिस एक लंबी अवधि की खांसी की संभावना को बढ़ा सकता है, और यह कुछ लोगों में खाँसी में ख़ून आने का कारण बनता है।

एक बार इस स्थिति के विकसित होने के बाद, इसे ठीक नहीं किया जा सकता है, लेकिन डॉक्टर आपको इसे प्रबंधित करने में मदद कर सकते हैं। वो आपको विशेष ब्रीथिंग एक्सर्सायज़ बता सकते हैं जो आपको अपने वायुमार्ग को साफ करने में मदद करेंगे।

डॉक्टर एंटीबायोटिक्स लिख सकते हैं, जिससे छाती में संक्रमण होने की संभावना कम हो सके।

खाँसती हुई महीला

क्या ख़ून सामान्य से अधिक गहरा है?

यदि ख़ून गहरे रंग का या भोजन या कॉफी के बिट्स जैसा हो, तो सम्भव है कि आपके पाचन तंत्र में गड़बड़ी जैसे अल्सर या esophageal varices हो। यह वह जगह है जहाँ आपकी अन्नप्रणाली के निचले हिस्से में रक्त वाहिकाएं बढ़ जाती हैं और रक्तस्राव होता है।

आपके पाचन तंत्र से रक्तस्राव हमेशा एक गंभीर आपातकालिक स्थिति है और आपको सीधे अस्पताल जाना चाहिए।

क्या आपका थूक झागदार, गुलाबी या खून से लथपथ है?

थूक जिसमें ख़ून की लकीरें होती हैं, अक्सर फेफड़ों से आती हैं, लेकिन गुलाबी झागदार बलगम के साथ खांसी होना हार्ट फ़ेल्यर का लक्षण हो सकता है।

हार्ट फ़ेल्यर एक गंभीर स्थिति है जिसे तत्काल मेडिकल सहायता देने की आवश्यकता है। यह सामान्य रूप से तब होता है जब शरीर के चारों ओर रक्त पंप करने के लिए हृदय बहुत कमजोर या कठोर हो जाता है।

यदि आपको हार्ट फ़ेल्यर होने का पता चला है, तो आपको हृदय शल्य चिकित्सा की आवश्यकता हो सकती है, या एक चिकित्सा उपकरण फिट करने की आवश्यकता हो सकती है जो आपके दिल की लय को प्रबंधित करने में मदद करेगा। डॉक्टर आपकी स्थिति को नियंत्रित करने में आपकी मदद करने के लिए दवाएँ भी लिख सकते हैं।

क्या आपको रात को पसीना आता है या अप्रत्याशित रूप से आपका वजन कम हुआ है?

रात को पसीना आना, भूख कम लगना, खांसी में ख़ून आना और अचानक वजन कम होना ये सभी TB, फेफड़े के कैंसर या फेफड़े के फोड़े(फेफड़ों में मवाद की कैविटी) के लक्षण हो सकते हैं।

तपेदिक(TB) एक बैक्टीरियल छाती का संक्रमण है जो सामान्य रूप से आपके फेफड़ों को प्रभावित करता है और एंटीबायोटिक दवाओं के सही कोर्स के साथ इलाज करता है।

फेफड़े का कैंसर, कैंसर के सबसे आम रूपों में से एक है और यह घातक हो सकता है। उपचार आपके कैंसर के प्रकार पर निर्भर करेगा, लेकिन अक्सर सर्जरी, कीमोथेरेपी या रेडियोथेरेपी के साथ इसका इलाज किया जाता है।

फेफड़े का फोड़ा कई कारणों से विकसित हो सकता है, लेकिन ज्यादातर फेफड़े के फोड़े तब होते हैं जब आप बैक्टीरिया से भरी सांस लेते हैं, जो बैक्टीरीआ आम तौर पर आपके मुंह में रहते हैं। एंटीबायोटिक दवाओं के एक कोर्स के साथ इलाज किया जा सकता है या एक शल्य प्रक्रिया का उपयोग करके ठीक किया जा सकता है।

और किन कारणों से आपकी खाँसी में ख़ून आ सकता है

खांसी में ख़ून के कुछ सामान्य कारणों में शामिल हो सकते हैं:

  • फेफड़े में ब्लड क्लाट(a pulmonary embolism)
  • क्लॉटिंग डिसऑर्डर या ऐसी स्थिति जो आपके फेफड़ों में रक्त वाहिकाओं को फुलाती है, जैसे कि Goodpasture syndrome।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि कई स्थितियाँ ऐसा होने का कारण बन सकती हैं। उदाहरण के लिए, नाक में गम्भीर मात्रा में रक्त्स्त्राव से ऐसा हो सकता है कि खाँसते वक़्त ख़ून आए।

लेकिन अगर आपको बड़ी मात्रा में खून आ रहा है या सांस लेने में कठिनाई हो रही है, तो आपको तुरंत मेडिकल सहायता लेनी चाहिए।

यदि आपके पास ऐसे लक्षण हैं, जिनका उल्लेख यहां नहीं किया गया है, तो आप हमारे स्व-मूल्यांकन उपकरण का उपयोग करने का भी प्रयास कर सकते हैं।

प्रमुख बातें:

  • खांसी में ख़ून अक्सर एक लगातार होने वाली खांसी या छाती में संक्रमण का परिणाम हो सकता है, लेकिन हमेशा इसकी एक डॉक्टर द्वारा जाँच की जानी चाहिए
  • लगभग 50% मामले इडियोपैथिक होते हैं, जिसका अर्थ है कि डॉक्टर स्पष्ट कारण की पहचान नहीं कर सकते हैं
  • भूरे रंग का खून, या ग्राउंड कॉफी जैसा ख़ून दिखायी दे, तो यह संकेत हो सकता है कि आपके पाचन तंत्र से खून बह रहा है - यह एक आपातकालीन मेडिकल स्थिति है।
  • अगर आपको खांसी में ख़ून आ रहा हो रही है और आपको घरघराहट या सांस लेने में तकलीफ हो रही है, तो आपके फेफड़ों का वायुमार्ग चौड़ा हो सकता है और सूजन हो सकती है (जिसे ब्रोन्किइक्टेसिस के रूप में जाना जाता है)
  • रात को पसीना आना, भूख कम लगना, खांसी में ख़ून आना और अचानक वजन कम होना, ये सभी तपेदिक, फेफड़ों के कैंसर या फेफड़ों के फोड़े के लक्षण हो सकते हैं।

महत्वपूर्ण सूचना: हमारी वेबसाइट उपयोगी जानकारी प्रदान करती है लेकिन ये जानकारी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है। अपने स्वास्थ्य के बारे में कोई निर्णय लेते समय आपको हमेशा अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

ऊपर जाएँ